उत्तराखंड: घास लेने गई महिला को भालू ने मार डाला, दो महिलाओं ने भागकर बचाई जान

bhalu ka hamla

चमोली: उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में इन्साओं पर जंगली जानवरों का हमला लगातार जारी है। एक बार फिर चमोली जिले के वादुक गांव की एक महिला को भालू हमला कर मार डाला। महिला मवेशियों के लिए घास लेने जंगल जा रही, तभी भालू ने हमला किया। जबकि जंगल जा रही दो अन्य महिलाओं ने भागकर अपनी जान बचाई।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को घाट ब्लाक के वादुक गांव की महेशी देवी (45) गांव की ही अन्य दो महिलाओं के साथ घास के लिए जंगल जा रही थी। इस दौरान गांव से करीब आधा किलोमीटर की दूरी पर रास्ते में घात लगाकर बैठे भालू ने महेशी देवी पर हमला कर दिया। जबकि भालू को देखकर दो अन्य महिलाएं गांव की तरफ भाग गई।

घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे। महेशी देवी गंभीर घायल थीं और थोड़ी देर में ही उसने दम तोड़ दिया। वहीं वन्य जीव प्रभाग के डीएफओ ने बताया कि पीड़ित परिवार को मुआवजे के तौर पर तीन लाख रुपये दिए जाएंगे। रेंज ऑफिस से घटना की रिपोर्ट मांगी गई है। प्रारंभिक रिपोर्ट मिलने पर पीड़ित परिवार को 30 फीसदी मुआवजा (90 हजार) शीघ्र वितरित किया जाएगा। जबकि शेष धनराशि पोस्टमार्टम के बाद दिया जाएगा।

चमोली जिले में भालू से लोगों में दहशत है। इस साल दो लोगों के साथ ही 122 मवेशियों को भालू मार चुका है। जोशीमठ, घाट, नारायणबगड़, देवाल, थराली, गैरसैंण, कर्णप्रयाग क्षेत्र में भालू की दहशत है। पिछले कुछ सालों से भालू के आबादी क्षेत्र में घुसने और मानव व पशुओं पर हमले की घटनाएं बढ़ गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here