VIDEO: एक आदेश से भाजपा सरकार असहज, सीएम त्रिवेंद्र का बड़ा बयान..

देहरादून: इन दिनों सोशल मिडिया पर एक आदेश वायरल हो रहा है, जिसको लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है। उत्तराखंड टिहरी के प्रभारी जिला समाज कल्याण अधिकारी दीपांकर घिल्डियाल की ओर से जारी इस प्रेस नोट में अंतरजातीय व अंतरधार्मिक विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन की जानकारी दी गई है। इस प्रोत्साहन योजना के तहत बताया गया कि अंतरधार्मिक और अंतरजातीय विवाह राष्ट्रीय एकता को जागृत रखने और समाज में एकता बनाए रखने में काफी सहायक सिद्ध हो सकता है। ऐसे विवाह पर सरकार योजना के तहत 50 हजार रुपये का अनुदान देती है।

Image

आदेश सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इसे लेकर सियासी तीर छूटने लगे। इस मसले पर भाजपा सरकार ने भी खुद को असहज महसूस किया। इस बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि, लव जिहाद की आड़ में संप्रदायिकता को किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में किसी भी तरह का तनाव ना हो इसके लिए सरकार प्रतिबद्ध है। लव जिहाद की आड़ में आतंकवाद फैलाने वाले ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार सख्ती से निपटेगी। साथ ही कहा कि लव जिहाद की आड़ में साम्प्रदायिका को रोकने के लिए हम पहले ही राज्य धर्म स्वतंत्र विधेयक लाये हैं। इसमें ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी जो छल क्षम तरीके से शादी विवाह करते हैं।

वहीँ इसको लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

वहीं भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष देवेन्द्र भसीन ने इसे एक पुराना आदेश बताया है, जो पुनः जारी हो होने की बात कही है और सरकार द्वारा इसका संज्ञान लेने और उसे ठीक करने की कार्यवाही की बात कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here