उत्तराखंड में दो नवंबर से खुलेंगे स्कूल; प्रार्थना, खेलकूद पर रोक समेत जाने अन्य निर्देश

देहरादून: कोरोना महामारी के कारण कई महीनों से स्कूल बंद हैं। उत्तराखंड सरकार ने पिछलो दिनों एक नवम्बर से स्कूलों को खोलने का फैसला लिया। एक नवंबर को रविवार होने के कारण उत्तराखंड में 10वीं और 12वीं की कक्षाओं के छात्र-छात्राओं के लिए दो नवंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। इस दौरान कोरोना को लेकर जारी सभी गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। इसके लिए जल्द ही गाइडलाइन जारी कर दी जाएगी।

इस सम्बन्ध में सचिवालय में विभागीय अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। इसमें शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि, स्कूलों में प्रार्थना सभाएं और खेलकूद सम्बन्धी गतिविधियां नहीं होंगी। शिक्षा सचिव ने कहा कि, स्कूलों के संबंध में जल्द ही गाइडलाइन जारी कर दी जाएगी। डे और बोर्डिंग स्कूलों के लिए इसमें अलग-अलग दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे।

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए स्कूलों को सैनिटाइज किया जाएगा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए बच्चों को छह फीट की दूरी पर बैठाया जाएगा। इसके साथ ही दरवाजे और खिड़कियों को खुला रखा जाएगा। सभी बच्चे और शिक्षक मास्क पहनकर आएंगे। इसके अलावा अभिभावकों की अनुमति से ही बच्चे स्कूल आएंगे। यदि किसी स्कूल में बच्चों की संख्या अधिक है तो वहां शिफ्ट के अनुसार बच्चों को पढ़ाया जाएगा। जो बच्चे स्कूल नहीं आ पाएंगे, उनके लिए ऑनलाइन क्लास जारी रखी जायेगी।

वहीं स्कूलों में बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण की भी व्यवस्था की जाएगी। साथ ही कोविड-19 के प्रति जागरूक किया जाएगा। स्कूलों में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जाएगा। स्कूल बसों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा। जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में स्कूलों की निगरानी के लिए समिति गठित की जाएगी।

बैठक में शिक्षा निदेशक आरके कुंवर, निदेशक एससीईआरटी सीमा जौनसारी ,संयुक्त निदेशक भूपेंद्र नेगी, अपर निदेशक वीएस रावत, असिस्टेंट कमिश्नर सीबीएसई रणवीर सिंह आदि मौजूद रहे।

अपने मोबाइल पर उत्तराखंड समेत सभी न्यूज पाने के लिए जॉइन करें हमारा व्हाट्सएप (WhatsApp) ग्रुप, लिंक पर क्लिक करें.. Bharatjan News Whatsapp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here