उत्तराखंड में साइबर ठगों का खेल, अब इन सीनियर IAS का बनाया फर्जी अकाउंट

देहरादून: साइबर ठग उत्तराखंड में लगातार नए नए हथकंडे अपना रहे हैं। आम आदमी के साथ ही वह मंत्रियों, अधिकरियों को भी नहीं बख्स रहे हैं। इससे पहले कई मंत्रियों, अधिकरियों और आमजन के फेसबुक अकाउंट हैक होने से लेकर फर्जी अकाउंट बनाकर ठगी के प्रयास करने के मामले सामने आते रहे हैं। अब सीनियर आइएएस और नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय के साथ भी यही हुआ।

IAS विनय शंकर पांडेय ने अपने फेसबुक अकाउंट पर यह मामला साझा करते हुए स्वजनों और मित्रों को आगाह किया है। उन्होंने लिखा कि, अगर उनके नाम से फेसबुक पर कोई फ्रेंड रिक्वेस्ट आती है या आर्थिक मदद की मांग की जाती है तो किसी भी झांसे में न आएं। पांडेय ने साइबर पुलिस को इसकी मौखिक सूचना भी दे दी है।

पिछले माह रुड़की में एसडीएम के नाम से एक फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर उनके मित्रों से विपत्ति की बात कहकर रुपये ठगने का मामला सामने आया था। इसके बाद एआरटीओ ऋषिकेश के नाम पर ऐसा ही किया गया। अब आइएएस विनय शंकर पांडेय को उनके एक मित्र ने उन्हें जब पूछा कि उन्होंने कोई नया फेसबुक अकाउंट बनाया, जिससे मित्रों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी जा रही। तो इससे साइबर ठगों का पूरा मामला खुल गया। जिस फर्जी अकाउंट पर आइएएस पांडेय का नाम, उनकी फोटो और प्रोफाइल था। साइबर पुलिस ने तत्काल उचित कदम उठाकर कार्रवाई शुरू कर दी। बताया गया कि फर्जी फेसबुक अकाउंट ब्लॉक करा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here