उत्तराखंड से नरेश बंसल भाजपा प्रत्याशी, राज्यसभा जाना तय

देहरादून: उत्तराखंड से राज्यसभा की एक सीट के लिए आखिरकार भाजपा ने प्रत्याशी घोषित कर दिया। भाजपा ने राज्य बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष नरेश बंसल को प्रत्याशी बनाया है।विधानसभा में भाजपा का बहुमत होने से बंसल का राज्यसभा जाना तय है।

मंगलवार को नामांकन का अंतिम दिन है। ऐसे में मंगलवार को ही बंसल द्वारा नामांकन पत्र खरीदा व भरा जाएगा। बता दें कि, पिछली बार हुए राज्य सभा की एक सीट के चुनाव में भी भाजपा प्रत्याशी ने आखिरी दिन ही नामांकन पत्र भरा था।

70 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 57 विधायक हैं। हालांकि कांग्रेस पहले ही संख्याबल कम होने की वजह से राज्य सभा चुनाव में प्रत्याशी न उतारने का फैसला ले चुकी है। बता दें कि उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद राज बब्बर का कार्यकाल 25 नवंबर में समाप्त हो रहा है।

इसके लिए उत्तराखंड भाजपा ने केंद्रीय हाईकमान को 5 लोगों के नाम का पैनल भेजा था, जिसमें विजय बहुगुणा, महेंद्र पांडे, अनिल गोयल, नरेश बंसल और बलराज पासी का नाम शामिल किया था। इनमे से नरेश बंसल ने बाजी मार ली है।

इस सीट के लिए पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। बहुगुणा के नेतृत्व में ही मार्च 2016 में नौ विधायकों ने कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल होकर तत्कालीन हरीश रावत सरकार को संकट में डाल दिया था। बहुगुणा ने इसके बाद विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा। साथ ही बहुगुणा को लोकसभा चुनाव में भी मौका नहीं मिला। इससे सियासी गलियारों में बहुगुणा को राज्यसभा भेजने की चर्चा थी।

चुनाव आयोग ने राज्य सभा चुनावों के लिए मतदान का दिन नौ नवम्बर तय किया है। लेकिन राज्य की एक सीट के लिए एक ही नामांकन होने की प्रबंल संभावना है। ऐसे में नाम वापसी के दिन दो नवंबर को दोपहर 03 बजे के बाद विजेता का नाम तय हो जाएगा।

चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार राज्य सभा चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी के लिए कम से कम सात प्रस्तावक होने चाहिए। 100 से कम सदस्यों वाली विधानसभा में कम से कम 10 प्रतिशत जबकि 100 से अधिक सदस्यता वाली विधानसभा के लिए प्रस्तावकों की संख्या कम से कम 10 तय की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here