देहरादून: युवक की चाकू मारकर हत्‍या होने से सनसनी, घटनास्थल पर पहुंचे एसएसपी, एसपी; हत्यारोपित गिरफ्तार

देहरादून: उत्तराखंड के देहरादून पटेलनगर कोतवाली क्षेत्र के गांधीग्राम में एक युवक की हत्या कर दी गई। इससे गुस्साए मृतक के स्वजनों ने पहले घटनास्थल पर व उसके बाद दून अस्पताल में खूब हंगामा किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत और पुलिस अधीक्षक नगर सरिता डोबाल ने स्वजनों को शांत कराया। वहीं, घटना के कुछ घंटे बाद ही पुलिस ने हत्यारोपित को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार, गांधीग्राम निवासी संदीप पाल का उसके घर से कुछ ही दूरी पर रहने वाले अल्लाहरक्खा और उसके छोटे भाई अल्लाहद्दीन से लंबे समय से विवाद चल रहा था। कई बार दोनों पक्षों में झगड़ा भी हुआ था। बीती 16 फरवरी को भी दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ था। जिसके बाद बाजार चौकी इंचार्ज नवीन जोशी ने संदीप पाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि, अगले ही दिन 17 फरवरी को उसे कोर्ट से जमानत मिल गई। ताजा घटनाक्रम के अनुसार शुक्रवार शाम संदीप पाल नाले में घर का कूड़ा फेंकने गया था। यह नाला अल्लाहरक्खा के घर के पास से बहता है। इसी दौरान उसका अल्लाहरक्खा से झगड़ा हो गया। बीच-बचाव किए जाने पर दोनों अपने-अपने घर चले गए। कुछ देर बाद संदीप अपने घर से चाकू लेकर अल्लाहरक्खा के घर पहुंच गया। वह अल्लाहरक्खा को घर से खींचकर बाहर लाया और उसके पेट में चाकू से कई वार कर दिए। आरोपित संदीप घटना के बाद भाग निकला। इसके बाद बुरी तरह लहूलुहान अल्लाहरक्खा को स्वजन अस्पताल ले गए, जहां उसकी मौत हो गई।

मामला संवेदनशील देख एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत, एसपी सिटी सरिता डोबाल, सीओ मसूरी नरेंद्र पंत, कैंट इंस्पेक्टर विद्याभूषण नेगी, वसंत विहार के इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह चौहान, नेहरू कॉलोनी के इंस्पेक्टर राकेश गुसांई फोर्स सहित घटनास्थल पर पहुंच गए। 

मृतक अल्लाहरक्खा की मां कलरूम ने बताया कि उसकी शादी दो साल पहले ही हुई थी। उसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैैं। अल्लाहरक्खा विक्रम चलाकर परिवार का पालन-पोषण कर रहा था। वहीं, आरोपित संदीप पाल फर्नीचर पर पॉलिश का काम करता है। वह नशे का आदी है। स्थानीय निवासियों के अनुसार संदीप पाल अकेला रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here