उत्तर प्रदेश: कोरोना मरीज मंत्री कमल रानी वरुण की मौत

kamal rani varun

लखनऊ (Bharatjan): योगी आदित्यनाथ सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण (Kamal Rani Varun) का रविवार को निधन हो गया। वह कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती थीं। वे यूपी विधानसभा की सदस्य थीं। इससे पहले वे सांसद भी रह चुकी हैं। वे 18 जुलाई को कोरोना से संक्रमित हुई थीं।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमल रानी वरुण (Kamal Rani Varun) के निधन पर ट्वीट कर शोक प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने लिखा, “उत्तर प्रदेश सरकार में मेरी सहयोगी, कैबिनेट मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण जी के असमय निधन की सूचना, व्यथित करने वाली है। प्रदेश ने आज एक समर्पित जननेत्री को खो दिया। उनके परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। ॐ शांति!”

मंत्री कमल रानी वरुण (Kamal Rani Varun) के निधन की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज का अपना अयोध्या दौरा स्थगति कर दिया है। बता दें कि इससे पहले, यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह के साथ ही चेतन चौहान, आयुष मंत्री डॉ़ धर्म सिंह सैनी, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उपेंद्र तिवारी तथा रघुराज सिंह पॉजिटिव हुए। हालांकि राजेंद्र प्रताप अब स्वस्थ्य हो चुके हैं।

ये भी पढ़ें: राज्यसभा सांसद व पूर्व सपा नेता अमर सिंह का निधन

उत्तर प्रदेश में अब तक 1,677 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। इनमे से भी 47 लोगों जान बीते 24 घंटे के दौरान गई है। अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि, राज्य में वर्तमान में 36,037 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। जबकि 51,354 लोगों को वायरस संक्रमण से ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

भारतजन यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here