भारत-चीन सेनाओं में झड़प में एक अफसर समेत तीन जवान शहीद, 45 वर्षों में पहली घटना

inida china

लद्दाख: लद्दाख के गलवान घाटी में भारत-चीन के विवाद ने हिंसक रूप ले लिया। यहाँ सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में तीन भारतीय सैनिक शहीद हो गए। इनमें सेना के एक अफसर भी शामिल हैं। वहीं कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि, झड़प में चीन के भी 5 सैनिक मारे गये हैं। इस दौरान दोनों ओर से पत्थरों का इस्तेमाल हुआ है। 1975 के बाद यह पहली बार है जब भारत-चीन सीमा पर किसी सैनिक की शहादत हुई हो।

भारतीय सेना की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई। इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं। दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं।’

वहीं चीनी विदेश मंत्रालय का आधिकारिक बयान भी सामने आया है। चीन ने उल्टा भारत पर ही घुसपैठ करने का आरोप लगाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने बॉर्डर क्रॉस करके चीनी सैनिकों पर हमला किया। चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत ऐसी स्थिति में एकतरफा कार्रवाई ना करे।

भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच कल रात झड़प तब हुई जब चीनी सैनिक समझौते के अनुसार एक स्थान से दूर जाने के लिए तैयार हो रहे थे। इस दौरान भारतीय कमांडिंग ऑफिसर (कर्नल) पर पत्थरों और लाठियों से हमला किया गया। जवाब में भारतीय सैनिकों के साथ हाथापाई हुई। हाथापाई कई घंटों तक चलने के बाद आधी रात के बाद दोनों देशों के सैनिक अलग हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here