हिमाचल की राजनीति के सुपरस्टार व 6 बार मुख्यमंत्री रहे वीरभद्र सिंह का निधन, 2 बार कोरोना को दी थी मात

शिमला: हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता वीरभद्र सिंह का लंबी बीमारी से जूझने के बाद आज तड़के निधन हो गया। कांग्रेस नेता वीरभद्र सिंह ने 87 साल की उम्र में इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, शिमला में आखिरी सांस ली। हिमाचल की राजनीति में उनका कद भी किसी सुपरस्टार से कम नहीं था। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि, वह हिमाचल प्रदेश के छह बार मुख्यमंत्री, नौ बार विधायक रह चुके थे। इतना ही नहीं वह पांच बार सांसद भी चुने गए थे। वर्तमान में वो सोलन जिले के अरकी से विधायक थे।

87 वर्षीय वीरभद्र सिंह पहले कोरोना वायरस से पीड़ित थे और उन्हें 13 अप्रैल को मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 12 अप्रैल को 11 जून को वह दो बार कोरोना वायरस से ग्रसित पाए गए थे, जिसके बाद उनकी तबीयत अक्सर खराब रहने लगी।

बताया जा रहा है कि कोरोना से ठीक होने और अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद उनकी तबीतय फिर से बिगड़ गई और उन्हें आईजीएमसी में कुछ दिनों पहले ही भर्ती कराया गया था। वह बीते दो दिनों से वेंटिलेटर पर थे।

वीरभद्र सिंह हिमाचल प्रदेश के 6 बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं। वीरभद्र सिंह के परिवार में पत्नी प्रतिभा सिंह, पुत्र एवं शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य सिंह और पुत्री अपराजिता सिंह हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here