देहरादून: बेरोजगारी से डिप्रेशन में चल रहे कोचिंग संचालक ने की आत्महत्या

देहरादून: कोरोना महामारी संकट के बीच बढ़ती बेरोजगारी के कारण युवा अवसाद में आकर आत्महत्या जैसा भयावह कदम उठा रहे हैं। बड़ी हैरानी की बात तो यह है कि, स्वयं दूसरों को राह दिखने वाले शिक्षक तक सुसाइड कर रहे हैं। ताजा मामला देहरादून के पटेलनगर का है। जहां कोचिंग सेंटर संचालक बेरोजगारी के चलते डिप्रेशन में था और उसने आत्महत्या कर ली। कोचिंग सेंटर के जरिये दूसरे युवाओं को करियर की राह दिखने वाले शिक्षक द्वारा ही आत्महत्या जैसा कदम उठाना बहुत ही चिंतनीय विषय है।

मामले के अनुसार थाना पटेल नगर पर एक डेथ मेमो प्राप्त हुआ, जिसमें मृतक ऋषभ गुप्ता पुत्र शिव कुमार गुप्ता निवासी मोती बाजार नियर गुप्ता स्वीट शॉप, उम्र 25 वर्ष द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गई। ज्ञात हुआ की ऋषभ गुप्ता द्वारा अपने ससुराल राज राजेश्वरी कॉलोनी, विद्या विहार फेस टू में फाँसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक के संबंध में जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि, मृतक पटेल नगर क्षेत्र के अंतर्गत पथरी बाग में कोचिंग सेंटर चलाता था और लॉकडाउन के बाद से ही कोचिंग सेंटर बंद था। परिजनों ने पुलिस को बताया गया कि मृतक डिप्रेशन में चल रहा था, मृतक का 3 माह पूर्व ही विवाह हुआ था। मृतक का पंचनामा की कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here